“बेहतरीन कविताएं” by मुरली श्रीवास्तव ! #Hindi Poetry

Before saying anything , I just want this poetic creation open the curtains of this particular write -up, which is my first one  dedicated specifically to ever -so-wonderful  Indian Poetry & Indian Poets :   लेखनी   जो लिखता हूँ ,  कि यह पीड़ा है , तो पीड़ा कम होती है , मैं पीड़ा कम करने के लिए लिखता हूँ , या पीड़ा…